व्यापार क्षेत्र

Indian economy भारतीय अर्थव्यवस्था राज्य लोक सेवा आयोग संघ लोक सेवा आयोग
  1. स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भारत द्वारा अपनाई गई व्यापार नीति की सबसे प्रमुख विशेषता इसका औद्योगिक नीति से गणेश रूप से जुड़ा होना था व्यापार नीति को निर्धारित करने हेतु औद्योगिक नीति को आधार बनाया गया।
  2. इस समय अधिकांश उद्योग सूती वस्त्र पटसन आदि तक ही सीमित है मात्र जमशेदपुर और कोलकाता में लोहा एवं इस्पात जैसे भारी उद्योगों की शुक्रवार भी फार्म थी अर्थात तात्कालिक आधार में विस्तार एवम विविधता का अभाव था।
  3. स्वतंत्रता प्राप्ति के समय भारतीय औद्योगिक क्षेत्र के सम्मुख अपेक्षित पहुंची तथा बड़े बाजार की उपलब्धता बड़ी चुनौती के रूप में थी इन कारणों के चलते राज्य को औद्योगिक क्षेत्र को प्रोत्साहन देने में व्यापक भूमिका का निर्वाह करना पड़ा।
  4. भारतीय अर्थव्यवस्था को समाजवाद के पथ पर अग्रसर करने के लिए द्वितीय पंचवर्षीय योजना में सरकार ने अर्थव्यवस्था में बड़े एवं भारी उद्योगों का नियंत्रण अपने हाथ में रखने का फैसला किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *