भारत : एक सामान्य परिचय

Geography भारत एवं विश्व का भूगोल राज्य लोक सेवा आयोग संघ लोक सेवा आयोग

भारत एक महान देश है। यहां की सभ्यता एवं संस्कृति उतनी ही पुरानी है जितनी की मानव की उत्पत्ति। भारत की विशालता के आधार पर इसे उपमहाद्वीप की संज्ञा दी गई है। इसका प्राचीन नाम आर्यावर्त था। राजा भारत के नाम पर इसका नाम भारतवर्ष पड़ा।

वैदिक आर्यों का निवास स्थान सिंधु घाटी में था। पर्शिया (आधुनिक ईरान) के लोगों ने सबसे पहले सिंधु घाटी से भारत में प्रवेश किया था। वे लोग ‘स’ का उच्चारण ‘ह’ की तरह करते थे, इसी आधार पर इसे हिंदुस्तान के नाम से संबोधित किया जाने लगा। ये लोग सिंधु (sindhu) का बदला रूप हिंदू (hindu) यहां के निवासियों के लिए भी प्रयोग करते थे।जैन पौराणिक कथाओं के अनुसार , हिंदू और बौद्ध ग्रंथों में भारत हेतु जम्बूद्वीप शब्द का प्रयोग किया गया है।

भारत के लिए प्रयुक्त इंडिया शब्द की उत्पत्ति ग्रीक भाषा के शब्द इंडोस (indos) से हुआ है। यूनानियों ने सिंधु को इंडस तथा इस देश को इंडिया कहा। जेम्स अलेक्जेंडर ने अपने विवरण में हिंदू (hindu) का ह (h) हटाकर देश को इंदू (indu) नाम से संबोधित किया था। बाद में परावर्तित होकर यह इंडिया हो गया। भारत के संविधान के अनुच्छेद 1 में कहा गया है कि भारत अर्थात इंडिया राज्यों का संघ होगा ( India, that is Bharat , shall be union of States)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *